न्यूटन के गति-विषयक नियम और अनुप्रयोग

न्यूटन के गति-विषयक नियम और अनुप्रयोग

Home » Science » न्यूटन के गति-विषयक नियम और अनुप्रयोग

न्यूटन के गति-विषयक नियम

न्यूटन के गति-विषयक प्रथम नियम –
  • यदि कोई वस्तु विराम अवस्था में है, तो वह विराम अवस्था में रहेगी और यदि किसी सरल रेखा में एकसमान चाल से चल रही है, तो ऐसे ही चलती रहेगी जब तक उस पर कोई बाह्य बल न लगाया जाए। इस नियम को गैलीलियो का नियम या जड़त्व का नियम भी कहते हैं।
  • Advertisement

न्यूटन के गति-गति-विषयक द्वितीय नियम –
  • किसी वस्तु पर कार्य करने वाले बल का मान वस्तु के द्रव्यमान तथा वस्तु में उत्पन्न त्वरण के गुणनफल के बराबर होता है।

न्यूटन के गति-गति-विषयक तृतीय नियम –
  • प्रत्येक क्रिया के बराबर तथा विपरीत दिशा में प्रतिक्रिया होती है।

also Read This Top 10 Richest People in the World

न्यूटन के गति नियमों के अनुप्रयोग

 प्रथम नियम पर आधारित
  • रुकी हुई गाड़ी के अचानक गतिशील हो जाने पर उसमें बैठे यात्री पीछे की ओर झुक जाते हैं तथा चलती हुई गाड़ी के अचानक रुक जाने पर यात्री आगे की ओर झुक जाते हैं।
  • बन्दूक की गोली से शीशे में गोल छेद हो जाता है, जबकि पत्थर मारने पर शीशा टूटकर बिखर जाता है।

Read This – Top 25 Facts about India | भारत के बारे में Top 25 तथ्य in Hindi

  • चलती रेलगाड़ी या बस से छलाँग लगाने पर व्यक्ति आगे की ओर गिरता है।
द्वितीय नियम पर आधारित
  • काँच के बर्तन को पैक करने से पहले भूसे अथवा कागज में लपेटा जाता है।
  • क्रिकेट खिलाड़ी गेंद को कैच करते समय अपने हाथों को थोड़ा पीछे कर लेता है।
  • गाड़ियों में शॉकर लगाए जाते हैं।
तृतीय नियम पर आधारित
  • बन्दूक से गोली छोड़ते समय, बन्दूक का पीछे की ओर को हटना।
  • नाव से जमीन पर उतरते समय, नाव का पीछे हटना।

also read this – Top 25 Facts about America in Hindi | Amazing Facts in Hindi

  • कुएँ से पानी खींचते समय रस्सी टूट जाने पर व्यक्ति का पीछे की ओर गिर जाना।

2 Replies to “न्यूटन के गति-विषयक नियम और अनुप्रयोग”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *